लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर
बलात्कार के मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय

स्थानीय

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

केदारनाथ धाम में अभी तक 15 यात्रियों की मौत

केदारनाथ धाम में अभी तक 15 यात्रियों की मौत

रुद्रप्रयाग, 02 जून (वार्ता)  02 Jun 2019      Email  

रुद्रप्रयाग, 02 जून  उत्तराखंड में केदारनाथ के कपाट खुलने के बाद से अभी तक 15 तीर्थयात्रियों की मौत हो गयी है। 

सूत्रों के अनुसार बाबा केदार के कपाट नौ मई को सुबह पांच बजकर 35 मिनट पर खुले थे। कपाट खुलने के 23 दिन के भीतर अभी तक 15 यात्री अपनी जान गंवा चुके है। इनमें से सबसे अधिक आठ यात्रियों की मौत आक्सीजन की कमी के कारण, दो तीर्थ यात्रियों की मौत ग्लेशियर टूटने एवं अन्य पांच यात्रियों की मौत हार्ट अटैक से हुई है। 

केदारनाथ धाम में स्वास्थ्य सुविधाओं का जिम्मा सिक्स सिग्मा को दिया गया है, लेकिन इसके बावजूद समय पर यात्रियों को उपचार नहीं मिल रहा है। जिस कारण यात्रियों को केदारनाथ धाम में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

केदारनाथ में आक्सीजन की कमी है। जिस कारण यहां यात्रियों की सांस लेने में दिक्कत होती है। वहीं स्वास्थ्य जांच न होने के कारण दिल के मरीज भी केदारनाथ धाम जा रहे हैं, जहां हार्ट अटैक से उनकी मौते हो रही हैं। हर तीसरे दिन एक यात्री केदारनाथ में आक्सीजन की कमी के कारण मर रहा है। केदारनाथ पैदल मार्ग पर ग्लेशियर भी जानलेवा साबित हो रहे हैं। अभी तक लिनचैली में बने ग्लेशियर में दो महिला तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है।

शनिवार सुबह चंद्रकांत (60) पुत्र हरि पात्रे निवासी साईं दत्त सीएचएस ई-बिल्डिंग मुंबई की अचानक तबीयत खराब हो गई है। उनके साथ के यात्रियों ने उन्हें माधव हॉस्पिटल गुप्तकाशी पहुंचाया, जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

रुपया 21 पैसे उछला
रुपया 21 पैसे उछला

मुंबई 26 जून  दुनिया की प्रमुख मुद्राओं के बॉस्केट में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर पड़ने से बुधवार को अंतरबैंकिंग मुद्र