लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर
बलात्कार के मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

क्या कांग्रेस जनता का पैसा लूटने के लिए सत्ता चाहती है : भाजपा

क्या कांग्रेस जनता का पैसा लूटने के लिए सत्ता चाहती है : भाजपा

नयी दिल्ली 13 अप्रैल (वार्ता)  13 Apr 2019      Email  

नयी दिल्ली 13 अप्रैल  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस पर आज आराेप लगाया कि वह मध्यप्रदेश एवं अन्य राज्यों की सरकारों के खजाने से गरीबों, बच्चों एवं किसानों के लिए जमा बजट का पैसा अवैध रूप से निकाल कर अपने उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने के लिए बांट रही है। भाजपा ने कांग्रेस से पूछा कि क्या वह फिर से पैसा लूटने के लिए सत्ता में आना चाहती है। 

भाजपा की प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी एवं गौरव भाटिया ने यहां पार्टी मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस के तुगलक रोड घोटाले के खुलासे से पता चला है कि मध्य प्रदेश की सरकार कांग्रेस के लिए चुनावी एटीएम बनी हुई है। राज्य के खजाने को पार्टी के लिए निचोड़ा जा रहा है। उन्होंने राजधानी केे तुगलक रोड पर रहने वाले विजय दामोदरन से आयकर विभाग के छापे में 20 करोड़ रुपए की नकदी बरामद होने और मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ के सहयोगियों के यहां पड़े छापों में 281 करोड़ रुपए मिलने की बात बतायी और कहा कि इस मामले में मध्य प्रदेश पुलिस के एक अधिकारी की लिप्तता है और इसलिए राज्य के पुलिस बल ने जांच को बाधित करने का प्रयास किया।

श्रीमती लेखी ने कहा कि ये सारा पैसा राज्य सरकार के खजाने में कुपोषण ग्रस्त गरीब बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के भोजन और राज्य में खनन तथा सिंचाई जैसी योजनाओं के लिए आवंटन राशि में से निकाला गया है। दामोदरन से पूछताछ में अनेक कांग्रेस नेताओं के नाम सामने आये हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे ही मामले कांग्रेस की अन्य राज्य सरकारों में होने की संभावना है। 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नीति है कि सरकारी खजाने से पैसा लूट कर अपने लोगों को देना है। उन्होंने इसके लिए गांधी परिवार को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि इस मामले में गांधी परिवार के करीबी लोगों के नाम सामने आये हैं। उन्होंने सवाल किया कि कांग्रेस की राज्य सरकारों के आचरण अगर ऐसे हैं तो उसे बताना चाहिए कि क्या केन्द्र की सत्ता उसे जनता का पैसा ऐसे ही लूटने के लिए चाहिए। 

भाजपा पर बदले की भावना से काम करने के कांग्रेस के आरोप पर श्रीमती लेखी ने कहा कि जब सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी तो कांग्रेस के नेतृत्व का कहना था कि यह काम सेना का है, सरकार का नहीं। तो फिर ये छापे भी केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने मारे हैं, सरकार की इसमें कोई भूमिका नहीं है। कांग्रेस यह बताये कि जो पैसा बरामद हुआ है, क्या वह भ्रष्टाचार का पैसा नहीं है। उन्होंने कहा कि जिस मामले का खुलासा हुआ है, कांग्रेस 70 वर्षों से ऐसा ही करती आ रही है।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

मानसून सत्र के पहले दिन विपक्ष के हंगामे के बीच परिषद की कार्यवाही स्थगित
मानसून सत्र के पहले दिन विपक्ष के हंगामे के बीच परिषद की कार्यवाही स्थगित

लखनऊ,18 जुलाई  उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था के मुद्दे को लेकर विपक्षी सदस्याें के हंगामे के बीच विधान परिषद के म

रुपया 15 पैसे फिसला
रुपया 15 पैसे फिसला

मुंबई 18 जुलाई  वैश्विक स्तर पर दुनिया की प्रमुख मुद्राओं में आयी तेजी और घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में गिरावट से बन

गरीब बच्चों का प्रवेश देने से बचने निजी स्कूल दिखा रहे कम संख्या- जोगी
गरीब बच्चों का प्रवेश देने से बचने निजी स्कूल दिखा रहे कम संख्या- जोगी

रायपुर 18 जुलाईजनता कांग्रेस सदस्य पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने आज विधानसभा में शिक्षा के अधिकार(आरटीई) के तहत गरीब बच