लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर
बलात्कार के मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय
शकुंतला विवि में दिव्यांग छात्रों के लिए बढ़ाई गईं सुविधाएं

होम

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

कांग्रेस ने भी माना, 60 वर्षों तक किया अन्याय

कांग्रेस ने भी माना, 60 वर्षों तक किया अन्याय

थेनी/बंगलुरु (भाषा)।   14 Apr 2019      Email  

मोदी ने कांग्रेस की न्याय योजना पर साधा निशाना, अन्याय के लिए मांगा न्याय
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को तमिलनाडु व कर्नाटक में चुनावी रैलियां कर कांग्रेस सहित विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने तमिलनाडु में कांग्रेस के चुनावी वादे न्याय पर निशाना साधते हुए 1984 के सिख विरोधी दंगों, भोपाल गैस त्रासदी और दलितों के खिलाफ हिंसा के लिए लोगों से न्याय की मांग की। मोदी ने रामानाथपुरम में एक रैली में दावा किया कि कांग्रेस के शासनकाल में आतंकी हमलों ने देश को हिला कर रख दिया था लेकिन राजग की नीतियों से इस पर विराम लगा है। प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि द्रमुक, कांग्रेस और मुस्लिम लीग गठबंधन के पक्ष में वोट करने का मतलब है कि उच्च कर लगेगा और विकास कम होगा, आतंकवादियों को खुली छूट मिलेगी तथा राजनीति में आपराधिक तत्वों का इजाफा होगा। उन्होंने आरोप लगाया कि वे लोग जो भारत की सुरक्षा नहीं कर सकते हैं वह देश का कभी विकास नहीं कर सकते हैं। जब कांग्रेस और उनके सहयोगी सत्ता में थे, आतंकवादी देश पर नियमित रूप से हमला करते थे।  प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि एक शहर के बाद दूसरे शहर में धमाके होते रहे और कांग्रेस असहाय तथा चुप बनी रही। उन्होंने कहा कि भारत अब किसी आतंकवादी या किसी जिहादी को नहीं छोड़ेगा। अगर वह हम पर हमला करने का दुस्साहस करते हैं तो वे जहां कहीं भी होंगे हम उनका पता लगा कर उनकी खुशियों को बर्बाद करे देंगे। प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और बेईमानी अच्छे दोस्त हैं लेकिन कभी कभार वे गलती से सच्चाई बयां कर जाते हैं। उन्होंने कहा कि अब वे कह रहे हैं अब होगा न्याय भले ही वे इसकी मंशा नहीं रखते हों,उन्होंने स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने 60 वर्ष तक अन्याय किया है।  मोदी ने सवाल किया कि मैं कांग्रेस पार्टी से जानना चाहूंगा कि 1984 के सिख विरोधी दंगों में न्याय कौन करेगा? कौन दलित विरोधी दंगों के पीड़ितों के साथ न्याय करेगा, कौन महान एमजी रामचंद्रन जी की सरकार के साथ न्याय करेगा, जिसे कांग्रेस ने केवल इस लिए बर्खास्त कर दिया क्योंकि एक परिवार को ये नेता पसंद नहीं थे। उन्होंने कहा कि भोपाल गैस त्रासदी के पीड़ितों के साथ न्याय कौन करेगा, जो भारत की सबसे खराब पर्यावरण आपदा थी। उन्होंने कहा कि मैं एमजीआर और जयललिता जी को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। भारत को इन दो महान नेताओं पर गर्व है जिन्होंने गरीबों के लिए काम किया और जिंदगी उनके प्रति समर्पित कर दी। उनकी सामाजिक कल्याण योजनाओं ने लाखों लोगों को गरीबी से बाहर निकाला। उन्होंने कहा कि याद रखिए कि तमिलनाडु को समृद्ध बनाने के लिए द्रमुक और कांग्रेस के इस खेल को समाप्त करना होगा। हमें अपने श्रीलंकाई तमिल भाइयों की समृद्धि के लिए काम करना जारी रखना होगा और भ्रष्ट परिवारों के वंशवादी शासन को समाप्त करना होगा। वहीं बेंगलुरू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस केंद्र की सत्ता में आने के सपने देख रही है। मोदी ने मतदाताओं से कहा कि वे कांग्रेस और उसके सहयोगियों को इस तरह से दंडित करें कि वे अपनी जमानतें भी नहीं बचा पाएं। मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने 60 महीने के अपने शासन के दौरान कारोबार में सुगमता को बढ़ावा दिया जबकि कांग्रेस ने 60 वर्षों के अपने शासन में लूट की सुगमता को बढ़ावा दिया।  प्रधानमंत्री ने कर्नाटक में आयकर विभाग द्वारा जद-एस के कई लोगों के खिलाफ हाल में मारे गए छापों को लेकर सत्ताधारी कांग्रेस-जदएस गठबंधन की ओर से की जा रही राजनीतिक बयानबाजी को लेकर भी आपत्ति जताई। मोदी ने रैली में आए लोगों से सवाल किया कि कानून का पालन होना चाहिए या नहीं, चाहे वह प्रधानमंत्री हों या मुख्यमंत्री या मंत्री? आपने जब गलत नहीं किया है तो आप डरे हुए क्यों हैं?


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें