लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर
बलात्कार के मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

इस्‍पात क्षेत्र को प्रतिस्‍पर्धी बनाने के लिए सभी उपाय होंगे : पीयूष

इस्‍पात क्षेत्र को प्रतिस्‍पर्धी बनाने के लिए सभी उपाय होंगे : पीयूष

नयी दिल्ली 11 जून (वार्ता)  11 Jun 2019      Email  

नयी दिल्ली 11 जून  केन्‍द्रीय वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल तथा इस्‍पात मंत्री धमेंद्र प्रधान ने मंगलवार को इस्‍पात क्षेत्र की चुनौतियों और आयात-निर्यात पर इस्‍पात कंपनियों के साथ विचार-विमर्श किया।

दोनों मंत्रियों ने इस्‍पात उद्योग को आश्‍वासन दिया कि वाणिज्‍य एवं उद्योग तथा इस्‍पात मंत्रालय अगले पाँच वर्षों के दौरान इंजीनियरिंग सामान के निर्यात को दोगुना करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। इस्पात निर्यात का लक्ष्‍य वर्ष 2030 तक 200 अरब डॉलर निर्धारित किया गया है। इससे भारतीय निर्यात को न सिर्फ प्रोत्‍साहन मिलेगा, बल्कि यह विनिर्माण क्षेत्र, विशेषकर छोटे उद्याेग क्षेत्र, में रोजगार के अवसरों का सृजन होगा। 

बैठक के दौरान इस्‍पात निर्यात परिषदों के प्रतिनिधियों ने अन्‍य देशों की संरक्षणवादी कानूनों का मुद्दा उठाया। दोनों मंत्रियों ने आयात-निर्यात शुल्क उपायों पर विस्‍तार से चर्चा की, ताकि अनावश्‍यक आयात को कम किया जा सके तथा निर्यात में बढ़ोतरी की जा सके।

इस बैठक में श्री गोयल और श्री प्रधान के अलावा इस्पात राज्य मंत्री फग्‍गन सिंह कुलस्‍ते, इस्‍पात सचिव विनय कुमार, वाणिज्‍य सचिव अनूप वाधवन, विदेश व्‍यापार के महानिदेशक आलोक वर्धन चतुर्वेदी, वाणिज्‍य तथा इस्‍पात मंत्रालय के वरिष्‍ठ अधिकारी, भारतीय इस्‍पात परिसंघ, इस्‍पात विनिर्माता तथा इस्‍पात क्षेत्र के अन्‍य परिसंघ के प्रतिनिधि मौजूद थे।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

रुपया 21 पैसे उछला
रुपया 21 पैसे उछला

मुंबई 26 जून  दुनिया की प्रमुख मुद्राओं के बॉस्केट में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर पड़ने से बुधवार को अंतरबैंकिंग मुद्र