लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा स्थगित
पुतिन 2036 तक बने रहेंगे राष्ट्रपति
श्रमिको के अधिकार रौंदने की कोशिश अनुचित:राहुल
प्रवासी मजदूरों की मौत पर मगरमच्छ के आंसू बहा रहा है केंद्र: चिदम्बरम
जापान में कोरोना संक्रमण के 14000 से अधिक मामले
कोरोना की लड़ाई में ‘सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ : मोदी
देश में कोरोना के 768 नये मामले, 36 की मौत
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह

बिज़नेस

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

खाद्य पदार्थों की महँगाई दर 14 प्रतिशत पर, छह साल का रिकॉर्ड स्तर

खाद्य पदार्थों की महँगाई दर 14 प्रतिशत पर, छह साल का रिकॉर्ड स्तर

नयी दिल्ली 13 जनवरी (वार्ता)  13 Jan 2020      Email  

नयी दिल्ली 13 जनवरी  सब्जियों और दालों की आसमान छूती कीमतों के बीच दिसंबर 2019 में खुदरा महँगाई दर साढ़े पाँच साल के उच्चतम स्तर 7.35 प्रतिशत पर पहुँच गयी जबकि खाद्य पदार्थों की खुदरा महँगाई दर छह साल से ज्यादा के उच्चतम स्तर 14.12 फीसदी पर रही।

ओवरऑल खुदरा महँगाई दर लगातार पाँचवें महीने बढ़ी है। गत दिसंबर का इसका स्तर जुलाई 2014 के बाद सर्वाधिक है। खाद्य खुदरा महँगाई की दर लगातार 10वें महीने बढ़ी है जबकि फरवरी 2019 में यह ऋणात्मक थी। यह नवंबर 2013 के बाद उच्चतम स्तर पर पहुँच चुकी है।

देश में आर्थिक सुस्ती की बात स्वीकार चुकी सरकार के लिए महँगाई के आँकड़े चिंताजनक हैं। मोदी सरकार के कार्यकाल में यह पहला मौका है जब खाने-पीने की चीजों के दाम इस कदर बढ़े हैं।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा सोमवार को जारी आँकड़ों के अनुसार, दिसंबर 2019 में सब्जियों की महँगाई दर 60.50 प्रतिशत पर रही। इसका मतलब यह है कि दिसंबर 2018 की तुलना में पिछले महीने सब्जियों के दाम 60.50 फीसदी बढ़े। दालों एवं इनसे बने उत्पादों की महँगाई दर 15.44 प्रतिशत रही।

यह लगातार दूसरा महीना है जब खाद्य पदार्थों की महँगाई दर दहाई अंक में रही है। नवंबर 2019 में खाद्य खुदरा महँगाई दर 10.01 प्रतिशत रही थी। एक साल पहले दिसंबर 2018 में यह दर 2.65 प्रतिशत ऋणात्मक रही थी।

खाद्य महँगाई दर को सम्मिलित करते हुये ओवरऑल खुदरा महँगाई दर नवंबर 2019 में 5.54 प्रतिशत और दिसंबर 2018 में 2.11 प्रतिशत रही थी।

ग्रामीण और शहरी दोनों इलाकों में दिसंबर 2018 में लोग महँगाई से एक समान परेशान रहे। खुदरा महँगाई की दर ग्रामीण इलाकों में 7.26 प्रतिशत और शहरी इलाकों में 7.46 प्रतिशत रही। खाद्य खुदरा महँगाई दर ग्रामीण इलाकों में 12.97 प्रतिशत और शहरी इलाकों में 16.12 प्रतिशत रही।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

मोदी ने पाकिस्तान ट्रेन हादसे में मृत सिख श्रद्धालुओं के प्रति जताया शोक
मोदी ने पाकिस्तान ट्रेन हादसे में मृत सिख श्रद्धालुओं के प्रति जताया शोक

नयी दिल्ली 03 जुलाई ... प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में रेल हादसे में मारे गए सिख