लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर
बलात्कार के मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

जीवन स्तर में सुधार के लिए राष्ट्रीय नवाचार आंदोलन की जरूरत: नायडू

जीवन स्तर में सुधार के लिए राष्ट्रीय नवाचार आंदोलन की जरूरत: नायडू

नयी दिल्ली 06 जुलाई (वार्ता)  06 Jul 2019      Email  

नयी दिल्ली 06 जुलाई  उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने लोगों के जीवन स्‍तर में सुधार और समृद्धि के लिए अनूठे विचारों और नवाचारों को प्रोत्‍साहन देने के उद्देश्य से राष्ट्रीय नवाचार आंदोलन की जरूरत पर बल दिया है। 

श्री नायडू ने आज यहां जैव प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा आयोजित एक समारोह में गांधीवादी युवा तकनीकी नवाचार (जीवाईटीआई) पुरस्कार 2019 प्रदान करने के बाद अपने संबोधन में कहा कि नए और समावेशी भारत का निर्माण करने के लिए समाज के हर वर्ग में प्रतिभाओं को आकार और प्रोत्‍साहन देने की आवश्‍यकता है। उन्होंने युवा वैज्ञानिकों से सरल, उच्च तकनीक वाले सस्ते नवाचारों को विकसित करने का आग्रह किया जिससे कि लोग प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, रोगों, कृषि संबंधी जोखिमों और कम दक्षता वाली औद्योगिक प्रक्रियाओं जैसी चुनौतियों से निपट सके और अधिक आरामदायक जीवन यापन कर सके।

उपराष्ट्रपति ने तेलंगाना के बुनकर श्री चिंतकंडी मल्लेशम द्वारा आविष्कार की गई एक अभिनव स्‍वदेशी मशीन का उल्लेख किया, जिसके माध्‍यम से एक साड़ी की बुनाई छह घंटे की जगह डेढ़ घंटे में की जा सकती है। श्री मल्लेशम को उनके आविष्कार के लिए पद्मश्री से सम्मानित किया गया था और उनकी इस यात्रा और उपलब्धि पर एक फिल्म भी बनाई गई।

उन्होंने 21 पुरस्कार विजेताओं के नवाचारों की प्रदर्शनी का भी दौरा किया और इनकी उपयोगिता के बारे में जानकारी ली। उन्होंने उम्मीद जतायी कि इन नवाचारों के उपयोग से देश निकट भविष्य में तेजी से आर्थिक विकास और तकनीकी उपलब्धि हासिल करेगा। कृषि को अधिक व्यवहारिक और टिकाऊ बनाने के लिए जैव-प्रौद्योगिकी हस्तक्षेपों पर अधिक बल देने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य, पोषण, पर्यावरण जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों के अलावा पशुपालन, डेयरी, मत्स्य पालन और जैवविविधता संरक्षण जैसे संबद्ध क्षेत्रों पर भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

मानसून सत्र के पहले दिन विपक्ष के हंगामे के बीच परिषद की कार्यवाही स्थगित
मानसून सत्र के पहले दिन विपक्ष के हंगामे के बीच परिषद की कार्यवाही स्थगित

लखनऊ,18 जुलाई  उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था के मुद्दे को लेकर विपक्षी सदस्याें के हंगामे के बीच विधान परिषद के म

रुपया 15 पैसे फिसला
रुपया 15 पैसे फिसला

मुंबई 18 जुलाई  वैश्विक स्तर पर दुनिया की प्रमुख मुद्राओं में आयी तेजी और घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में गिरावट से बन

गरीब बच्चों का प्रवेश देने से बचने निजी स्कूल दिखा रहे कम संख्या- जोगी
गरीब बच्चों का प्रवेश देने से बचने निजी स्कूल दिखा रहे कम संख्या- जोगी

रायपुर 18 जुलाईजनता कांग्रेस सदस्य पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने आज विधानसभा में शिक्षा के अधिकार(आरटीई) के तहत गरीब बच