लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी करने वाले रहमदिली के नहीं हकदार :राहुल

धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी करने वाले रहमदिली के नहीं हकदार :राहुल

फऱीदकोट/लुधियाना, 15 मई (वार्ता)  15 May 2019      Email  

फऱीदकोट/लुधियाना, 15 मई  बेअदबी के मामले पर शिरोमणि अकाली दल और भाजपा गठजोड़ पर बरसते हुए कांग्रेस के प्रधान राहुल गांधी ने कहा है कि पवित्र धार्मिक ग्रंथों के बेअदबी करने वाले रहमदिली के हकदार नहीं हैं ।

श्री गांधी आज कांग्रेस प्रत्याशी मोहम्मद सदीक तथा लुधियाना के प्रत्याशी रवनीत बिट्टू के समर्थन में रैलियों को संबोधित कर रहे थे । बेअदबी के मामलों और बरगाड़ी घटना के दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की चेतावनी देते हुये उन्होंने कहा कि जुर्म करने वालों और पुलिस गोलीबारी की घटना में किसी को भी माफ नहीं किया जायेगा। बहबल कलाँ और कोटकपूरा फायरिंग की घटनाओं और बेअदबी के मामलों के दौरान इस क्षेत्र के अपने पिछले दौरे को याद करते हुए उन्होंने कहा कि धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी करने वाले किसी भी रहमदिली के हकदार नहीं हैं।

श्री गांधी ने पंजाब सहित पूरे देश को बेइज़्ज़त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तीखे हमले किये। पिछले 70 सालों के दौरान कोई भी विकास न होने और उनके सत्ता में आने के बाद देश के जागने के श्री मोदी के दावे को पर तंज कसते हुये उन्हाेंने कहा कि तब मोदी जी आप कहाँ थे जब पंजाब के किसानों ने हरित क्रांति लाई।’’ उन्होंने कहा कि भारत के लोग अपने खून पसीने से देश को चला रहे हैं। कांग्रेस, देश के विकास के लिए जाति, धर्म, भाईचारे की जगह हरेक भारतीय को अपने साथ लेने में विश्वास रखती है।

रोजग़ार सृजन और किसानों की भलाई को कांग्रेस पार्टी की मुख्य प्राथमिकता बताते हुये उन्होंने लुधियाना के लोगों के साथ वादा किया कि उनकी पार्टी छोटे और मध्यम व्यापार को बढ़ावा देगी । उन्होंने कहा कि ‘मेड इन लुधियाना’ के बिना भारत चीन को चुनौती नहीं दे सकता। उन्होंने कहा कि ‘मेड इन लुधियाना’, ‘मेक इन इंडिया’ का अभिन्न हिस्सा होगा। 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि छोटे और मंझोले व्यापारियों के बिना रोजग़ार सृजन में भी सफलता नहीं मिल सकती। कांग्रेस के चुनाव घोषणापत्र में नौजवानों के रोजग़ार का वादा और किसानों के लिए अलग बजट का वादा करते हुए उन्होंने ‘न्याय’ की चर्चा करते हुए कहा कि मोदी सरकार न केवल सभी मोर्चों पर असफल हो चुकी है बल्कि इसने मुट्ठीभर अमीर उद्योगपतियों की मदद के लिए आम लोगों की जेबों में से पैसा चोरी किया है। इन अमीर उद्योगपतियों में से कुछ तो देश छोड़ कर ही भाग गए हैं जिनको करोड़ों रुपए के ऋणी होने के बावजूद जेलों में नहीं डाला गया।

श्री मोदी के ‘अच्छे दिनों के वादों’ पर सवाल खड़े करते हुए उन्होंने कहा कि अब पाँच साल बाद श्री मोदी इस विषय पर कोई बात नहीं कर रहे। वह नौकरियों, हरेक के बैंक खातों में 15 -15 लाख रुपए डालने और किसानों की आय दोगुनी करने के वादों के द्वारा सत्ता में आये थे लेकिन किया कुुछ नहीं । डा. मनमोहन सिंह और उनकी प्रगतिशील आर्थिक नीतियों का मज़ाक बनाने वाला श्री मोदी पाँच सालों में ही एक लतीफ़ा बन गये हैं। उन्होंने झूठ बोलकर और धोखे से देश को छला है। भाजपा सरकार ने देश की आर्थिकता को तबाह कर दिया है ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अनिल अम्बानी, नीरव मोदी, ललित मोदी, विजय मालिया, चौकसी के पास से धन वापस लाएगी। उन्होंने कहा,‘‘मैं प्रधानमंत्री की नफऱत का मुकाबला प्यार के साथ करूँगा क्योंकि यह हमारे डीएनए में है ।’’


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें