लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

यशवंत सिन्हा की गांधी शांति यात्रा को शरद पवार ने दिखाई हरी झंडी

यशवंत सिन्हा की गांधी शांति यात्रा को शरद पवार ने दिखाई हरी झंडी

मुंबई, 09 जनवरी (वार्ता)  09 Jan 2020      Email  

मुंबई, 09 जनवरी  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के खिलाफ पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा की “गांधी शांति यात्रा” को गुरुवार को गेटवे ऑफ इंडिया पर हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और राकांपा के मंत्री नवाब मलिक के सामने यात्रा का शुभारंभ हुआ।

इस अवसर पर श्री पवार ने कहा, “सरकार तानाशाही नीतियों का उपयोग कर रही है। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में जो हुआ उसका पूरे देश में विरोध हो रहा है। गांधीजी की अहिंसा के तरीके के साथ सरकार की तानाशाही का जवाब दिया जाना चाहिए।”

उन्होंने यह भी कहा कि देश में सीएए-एनआरसी पर भय का माहौल व्याप्त है। उन्होंने सरकार पर एक ऐसी स्थिति बनाने का आरोप लगाया जहां लोगों को लग रहा है कि सरकार द्वारा जरूरी दस्तावेज न होने की स्थिति में उन्हें शिविरों में रहना होगा।

श्री सिन्हा के नेतृत्व में राष्ट्र मंच ने इस रैली का आयोजन किया। राष्ट्रमंच ने कहा कि केन्द्र सरकार सीएए को निरस्त करे और देश भर में एनआरसी लागू नहीं करने की घोषणा संसद में करने की मांग की।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि प्रदर्शनकारी भी चाहते हैं कि सरकार उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश के माध्यम से जेएनयू में हुयी हिंसा की न्यायिक जांच सुनिश्चित करे।

राष्ट्रमंच के मुताबिक 30 जनवरी को दिल्ली के राजघाट पर गांधी जी की पुण्यतिथि के अवसर पर इस रैली का समापन होगा। आयोजकों ने कहा कि महाराष्ट्र के अलावा, गांधी शांति यात्रा गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश,

हरियाणा और दिल्ली से होकर 3,000 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

घूस लेने के मामले में परिवहन मंत्रालय के इंजीनियरों समेत तीन गिरफ्तार, 11 जगहों पर छापे
घूस लेने के मामले में परिवहन मंत्रालय के इंजीनियरों समेत तीन गिरफ्तार, 11 जगहों पर छापे

सीबीआई ने केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के एक अधीक्षण अभियंता और दो अन्य को 2.76 लाख रुपए की रिश्वत लेने के

येस बैंक के ग्राहकों का पैसा सुरक्षित, रिजर्व बैंक जल्द समाधान के लिए कर रहा काम : सीतारमण
येस बैंक के ग्राहकों का पैसा सुरक्षित, रिजर्व बैंक जल्द समाधान के लिए कर रहा काम : सीतारमण

एसबीआई ने येस बैंक में निवेश की इच्छा जताई, रणनीतिक निवेशक को लेनी होगी 49 प्रतिशत हिस्सेदारी  वित्त मंत्री निर्मल