लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

स्थानीय

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

घर-घर पहुंचायेंगे आयुष पद्धति : श्रीपद येसो नाइक

घर-घर पहुंचायेंगे आयुष पद्धति : श्रीपद येसो नाइक

नयी दिल्ली, 24 सितम्बर (वार्ता)  24 Sep 2019      Email  

नयी दिल्ली, 24 सितम्बर  केन्द्रीय आयुष राज्य मंत्री श्रीपद येसो नाइक ने कहा है प्राचीन धरोहर आयुष पद्धति को घर-घर पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है और राष्ट्रीय आयुष मिशन (एनएएम) के अंतर्गत हर राज्य के सभी जिलों में 50 बिस्तरों वाला अस्पताल खोले जाने की योजना है।

श्री नाइक आयुष मंत्रालय के सौ दिन पूरा होने के मौके पर मंगलवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि कम समय में मंत्रालय ने अनेक महत्वपूर्ण कार्य किए हैं।

उन्होंने कहा कि अब तक 88 आयुष अस्पताल खोले जाने के लिए फंडिंग की गयी है और वे तैयार होने के कगार पर हैं। आने वाले कुछ सालों में यह संख्या 100 हो सकती है और समय के साथ इसकी संख्या में वृद्धि होगी। सभी राज्यों में 50 बिस्तरों वाला अस्पताल खोलने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा,“ वर्तमान में देश भर में करीब साढ़े सात सौ अस्पताल और इतने ही आयुष कॉलेज हैं। हमारी योजना आयुष पद्धति को घर-घर पहुंचाने की है। बच्चों को भी इस योजना से जोड़ने की दिशा में नायाब कदम उठाते हुए एक कार्टून पत्रिका ‘प्रोफेसर आयुष्मान का प्रकाशन शुरू किया है।”

श्री नाइक ने कहा,“ हमारे आसपास औषधीय पौधे और वनस्पति होते हैं लेकिन हमें इसके बारे में जानकारी नहीं होती है। बच्चों को इससे परिचित कराने के लिए बच्चों की रुचि को देखते हुए एक कार्टून पत्रिका के रूप में उन्हें तुलसी समेत तमाम औषधीय पौधों से अवगत कराने की दिशा में यह कदम उठाया गया है।”

उन्होंने सौ दिनों की मंत्रालय की कई उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि आयुष चिकित्सा पद्धतियों को आम लोगों तक पहुंचाना मंत्रालय का प्रमुख लक्ष्य है जिसके तहत योग को घर-घर पहुंचाते हुए विश्व तक पहुंचाया गया और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने इसके महत्व को स्वीकार करते हुए हर साल 21 अगस्त को योग दिवस के रुप में मनाना तय किया। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ के आयोजन में आयुष मंत्रालय ने महती योजना तैयार की है जिसके तहत दो अक्टूबर से एक साल तक 150 मेगा प्राकृतिक चिकित्सा शिविर आयोजित किये जायेंगे। पहला शिविर गोवा में आयोजित किया जायेगा।

उन्होंने कहा,“आयुष चिकित्सा पद्धति से संबंधित हमारे प्रयासों को वैश्विक स्तर पर भी काफी सराहना मिली है जिसकी बानगी इस वर्ष 12 अगस्त को चीन के साथ हुए समझौत के रूप में देखी जा सकती है। विश्व के दो बड़े देश पारंपरिक चिकित्सा पद्धति के माध्यम से आम लोगों को मदद प्रदान कराने में सहयोग करेंगे। बिम्सटेक देशों के साथ हमारे बेहतरीन राजनीतिक और सामाजिक समीकरण होने के कारण उन्होंने संयुक्त रूप से भारत में बिम्सटेक आयुर्वेद और पारंपरिक चिकित्सा विश्वविद्यालय खोले जाने के लिए सहमति व्यक्त की है। होम्योपैथी को बढ़ावा देने के संयुक्त प्रयासों के क्रम में इस वर्ष जुलाई और अगस्त में गाम्बिया एवं गिनी के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गये।”


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी
देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी

गोहाना/हिसार, 18 अक्तूबर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर आज बड़ा हमला बोलते हुये कहा कि उसने देश में

रुपया दो पैसे चढ़ा
रुपया दो पैसे चढ़ा

मुंबई 18 अक्टूबर  दुनिया की प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजाेर पड़ने और घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में तेजी