लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

विदेश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

वार्ता केवल भारत-पाक के बीच होगी

वार्ता केवल भारत-पाक के बीच होगी

बैंकॉक/वाशिंगटन (भाषा)।   03 Aug 2019      Email  

कश्मीर मुद्दे पर अमेरिका को भारत का दो टूक जवाब
कश्मीर मामले पर मध्यस्थता की अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पेशकश के बाद विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने अपने अमेरिकी समकक्ष माइक पोम्पिओ को शुक्रवार को यह स्पष्ट किया कि यदि कश्मीर पर किसी वार्ता की आवश्यकता हुई, तो वह केवल पाकिस्तान के साथ होगी और द्विपक्षीय ही होगी। जयशंकर इस समय थाईलैंड की राजधानी में हैं। वह आसियान-भारत मंत्रिस्तीय बैठक, नौवें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में विदेश मंत्रियों की बैठक, 26वें आसियान क्षेत्रीय मंच और 10वें मेकोंग गंगा सहयोग मंत्रिस्तरीय बैठक समेत कई सम्मेलनों में भाग लेने यहां आए हैं। जयशंकर ने ट्वीट किया कि पोम्पिओ (अमेरिकी विदेश मंत्री) से क्षेत्रीय मामलों पर विस्तृत वार्ता हुई। उन्होंने ट्वीट किया कि अमेरिकी समकक्ष पोम्पिओ को शुक्रवार सुबह स्पष्ट रूप से अवगत करा दिया गया कि यदि कश्मीर पर किसी वार्ता की आवश्यकता हुई तो वह केवल पाकिस्तान के साथ होगी और द्विपक्षीय ही होगी। जयशंकर ने बैंकॉक में नौवें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में विदेश मंत्रियों की बैठक के इतर पोम्पिओ से मुलाकात की। भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता संबंधी ट्रंप के विवादास्पद बयान के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली आधिकारिक बैठक है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मोर्गन ओर्टेगस के अनुसार, दोनों नेताओं ने ैभारत-प्रशांत क्षेत्र में कानून के शासन, नेविगेशन की स्वतंत्रता और लोकतांत्रिक मूल्यों को बनाए रखने के लिए हमारी साझा प्रतिबद्धतौ पर चर्चा की। मोर्गन ने अपने बयान में कश्मीर मामले का कोई जिक्र नहीं किया है। ट्रंप ने जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से व्हाइट हाउस में पहली बार पिछले महीने मुलाकात की थी तब उन्होंने कश्मीर मामले पर भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की पेशकश की थी। भारत सरकार ने ट्रम्प के हैरान कर देने वाले इस दावे को खारिज कर दिया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे इस मामले पर मध्यस्थता करने कहा था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री खान ने कहा था कि वह तैयार हैं और कश्मीर मामले पर अमेरिका के इस कदम का स्वागत करते हैं। दूसरी ओर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि कश्मीर विवाद को सुलझाना भारत और पाकिस्तान पर निर्भर करता है लेकिन अगर दोनों दक्षिण एशियाई पड़ोसी देश इस दशकों पुराने मुद्दे को सुलझाने में उनकी मदद चाहेंगे तो वह इसके लिए तैयार हैं। ट्रंप पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ पिछले हफ्ते हुई बैठक का हवाला दे रहे थे जिसमें उन्होंने कश्मीर मुद्दे को सुलझाने में मदद की पेशकश की थी। कश्मीर पर मध्यस्थता की उनकी पेशकश को भारत की ओर से खारिज किए जाने पर पूछे गए एक सवाल पर ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि यह (मध्यस्थता की पेशकश स्वीकार करना) पूरी तरह प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) पर निर्भर करता है। ट्रंप से जब भारत द्वारा मध्यस्थता की पेशकश खारिज किए जाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस संबंध में जानने के लहजे में सवाल किया कि उन्होंने पेशकश स्वीकार की या नहीं? ट्रंप ने कहा कि मेरे विचार में वे बेहतरीन लोग हैं - मेरा मतलब खान और मोदी से है। मुझे लगता है कि दोनों के बीच इस पर अच्छे से बातचीत हो सकती है लेकिन अगर वे चाहते हैं कि उनकी मदद के लिए कोई हस्तक्षेप करे और मैंने पाकिस्तान से भी इस बारे में बात की और भारत से भी। उन्होंने इस बात पर भी अफसोस जताया कि कश्मीर मुद्दा लंबे समय से चल रहा है। ट्रंप से उन्होंने जब पूछा कि वह कैसे कश्मीर मुद्दा सुलझाना चाहते हैं तो उन्होंने कहा कि अगर वे चाहेंगे तो, मैं निश्चित तौर पर हस्तक्षेप करुंगा। 


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

घूस लेने के मामले में परिवहन मंत्रालय के इंजीनियरों समेत तीन गिरफ्तार, 11 जगहों पर छापे
घूस लेने के मामले में परिवहन मंत्रालय के इंजीनियरों समेत तीन गिरफ्तार, 11 जगहों पर छापे

सीबीआई ने केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के एक अधीक्षण अभियंता और दो अन्य को 2.76 लाख रुपए की रिश्वत लेने के

येस बैंक के ग्राहकों का पैसा सुरक्षित, रिजर्व बैंक जल्द समाधान के लिए कर रहा काम : सीतारमण
येस बैंक के ग्राहकों का पैसा सुरक्षित, रिजर्व बैंक जल्द समाधान के लिए कर रहा काम : सीतारमण

एसबीआई ने येस बैंक में निवेश की इच्छा जताई, रणनीतिक निवेशक को लेनी होगी 49 प्रतिशत हिस्सेदारी  वित्त मंत्री निर्मल