लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा स्थगित
पुतिन 2036 तक बने रहेंगे राष्ट्रपति
श्रमिको के अधिकार रौंदने की कोशिश अनुचित:राहुल
प्रवासी मजदूरों की मौत पर मगरमच्छ के आंसू बहा रहा है केंद्र: चिदम्बरम
जापान में कोरोना संक्रमण के 14000 से अधिक मामले
कोरोना की लड़ाई में ‘सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ : मोदी
देश में कोरोना के 768 नये मामले, 36 की मौत
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

खज़ाने का ताला खोल कर गरीबों को राहत दे सरकार: सोनिया

खज़ाने का ताला खोल कर गरीबों को राहत दे सरकार: सोनिया

नयी दिल्ली, 28 मई (वार्ता )  28 May 2020      Email  

नयी दिल्ली, 28 मई ...कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि लॉकडाउन के कारण राेजी रोजी नहीं मिलने से लाखों प्रवासी श्रमिकों के भूखे पेट और नंगे पांव सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल कर अपने घर जाने का मंजर देश ने देखा है और यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है इसलिए सरकार को हर हाल में खजाने का ताला खोलकर गरीबों को राहत देनी चाहिए।

श्रीमती गांधी ने गुरुवार को यहां जारी एक वीडियो सन्देश में कहा कि उनके सभी सहयोगियों के साथ ही अर्थशास्त्रियों, समाजशास्त्रियों और समाज के अग्रणी लोगों ने बार-बार सरकार से इन पीड़ितों को राहत देने और उनके घावों पर मरहम लगाने का आग्रह किया है और कहा है कि लॉकडाउन से मजदूर, किसान, उद्यमी और छोटे दुकानदार सभी पीडित हैं और उनकी मदद की जानी चाहिए लेकिन केंद्र सरकार ने यह बात समझने और इस पर ध्यान देने से इंकार किया है तथा उनके जख्मों को और गहरा किया है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने जब इस सलाह को नहीं माना तो कांग्रेस ने इस तबके की आवाज बुलंद करने और सरकार पर दबाव बनाने के लिए सोशल मीडिया पर अभियान चलाने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा “केंद्र सरकार से फिर आग्रह है कि खज़ाने का ताला खोलिए और ज़रूरतमंदों को राहत दीजिये। हर परिवार को छह महीने के लिए 7,500 रुपए प्रति माह सीधे नकद भुगतान करें और उसमें से 10,000 रुपए उन्हें फौरन दें।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उनकी प्राथमिकता मजदूरों के दर्द को कम करना है इसलिए सरकार मज़दूरों को सुरक्षित और मुफ्त यात्रा का इंतजाम कर घर पहुंचाए और उनके लिए रोजी रोटी का इंतजाम करें। उन्हें राशन दी जानी चाहिए और गांव पहुंचने के बाद उन्हें मनरेगा के तहत 200 दिन का काम दिया जाना चाहिए ताकि इन गरीबों को उनके गांव में ही रोजगार मिल सके। इसी तरह से छोटे और लघु उद्योगों को कर्ज देने की बजाय उन्हें आर्थिक मदद दी जानी चाहिए ताकि लोगों की नौकरियां बची रहें।

श्रीमती गांधी ने कहा कि लॉकडाउन के चलते करोड़ों लोगों का रोजगार चला गया है, लाखों धंधे चौपट हो गए, कारखानें बंद हो गए, किसान को फसल बेचने के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही है। यह पीड़ा पूरे देश ने झेली, पर शायद सरकार को इसका अंदाजा ही नहीं था।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

मोदी ने पाकिस्तान ट्रेन हादसे में मृत सिख श्रद्धालुओं के प्रति जताया शोक
मोदी ने पाकिस्तान ट्रेन हादसे में मृत सिख श्रद्धालुओं के प्रति जताया शोक

नयी दिल्ली 03 जुलाई ... प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में रेल हादसे में मारे गए सिख