लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा स्थगित
पुतिन 2036 तक बने रहेंगे राष्ट्रपति
श्रमिको के अधिकार रौंदने की कोशिश अनुचित:राहुल
प्रवासी मजदूरों की मौत पर मगरमच्छ के आंसू बहा रहा है केंद्र: चिदम्बरम
जापान में कोरोना संक्रमण के 14000 से अधिक मामले
कोरोना की लड़ाई में ‘सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ : मोदी
देश में कोरोना के 768 नये मामले, 36 की मौत
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह

होम

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

एक्सप्रेसवे बदल देगा क्षेत्र का जनजीवन

एक्सप्रेसवे बदल देगा क्षेत्र का जनजीवन

चित्रकूट (डीएनएन)।   01 Mar 2020      Email  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चित्रकूट में रखी बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की आधारशिला, बोले
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि बुंदेलखंड को विकास के एक्सप्रेसवे पर ले जाने वाला बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे इस क्षेत्र के जन जीवन को बदलने वाला सिद्ध होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि करीब 15 हजार करोड़ रुपए की लागत से बनने वाला ये एक्सप्रेसवे यहां रोजगार के कई अवसर लाएगा और यहां के सामान्य जन को बड़े-बड़े शहरों जैसी सुविधा से जोड़ेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को चित्रकूट में करीब 15 हजार करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की बटन दबाकर आधारशिला रखी। उत्तर प्रदेश सरकार बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का निर्माण कर रही है, जो चित्रकूट, बांदा, हमीरपुर और जालौन जिलों से गुजरेगा। यह एक्सप्रेसवे बुंदेलखंड क्षेत्र को आगरा-लखनऊ  एक्सप्रेसवे और यमुना एक्सप्रेसवे के रास्ते से जोड़ेगा, साथ ही बुंदेलखंड क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उत्तर प्रदेश सरकार की प्रशंसा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ और उनकी सरकार एक्सप्रेस गति से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि पहले एक्सप्रेस वे बड़े शहरों जैसे दिल्ली और मुंबई में होते थे लेकिन अब चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, औरैया ऐसे ऐसे इलाकों के लोग भी एक्सप्रेस वे का लाभ उठा पाएंगे। उन्होंने कहा कि यह आधुनिक आधारभूत ढांचा यहां नए उद्योगों और उद्यमों को विकसित करेगा। यह संयोग ही है कि पिछले साल फरवरी में ही उत्तर प्रदेश रक्षा गलियारे का शिलान्यास करने के लिए उन्हें यहां आने का मौका मिला था और इस साल बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शिलान्यास हो रहा है। उन्होंने कहा कि इस साल के बजट में उप्र रक्षा गलियारे के लिए 3700 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इन दोनों योजनाओं का आपस में गहरा नाता है। बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे से उप्र रक्षा गलियारे को भी गति मिलने वाली है। मोदी ने कहा कि एक समय में यह क्षेत्र भारत की आजादी के क्रांतिवीरों को पैदा करता रहा है। आने वाले समय में भारत युद्ध के साजो सामान से आत्मनिर्भर बनाने वाले क्षेत्र के रूप में जाना जाएगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर सरकार 14849.09 करोड़ रुपए खर्च करेगी। यह एक्सप्रेसवे बुंदेलखंड क्षेत्र को सड़क मार्ग के जरिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से जोड़ेगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए 95.46 प्रतिशत भूमि का क्रय व अधिग्रहण किया जा चुका है। इसका निर्माण कार्य के शुरू होने से लगभग 60 हजार लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। प्रधानमंत्री ने किसानों का जिक्र करते हुए कहा कि किसान अब तक उत्पादक था, अब एफपीओ (किसान उत्पादक संगठन) के माध्यम से व्यापार भी करेगा। प्रधानमंत्री शनिवार को देश के किसानों की आय बढ़ाने के लिए, किसानों को सशक्त करने के लिए 10 हजार एफपीओ यानि किसान उत्पादक संगठन बनाने की योजना की यहां शुरुआत की । इस परियोजना के माध्यम से किसान अपने उत्पादों की बिक्री उचित दाम पर कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने ये भी तय किया है कि आदिवासी क्षेत्रों और चित्रकूट जैसे देश के 100 से ज्यादा आकांक्षी जिलों में एफपीओ को अधिक प्रोत्साहन दिया जाए, हर ब्लॉक में कम से कम एक एफपीओ का गठन जरूर किया जाए। मोदी ने कहा कि हम देश के अन्नदाता की चिंता करते हैं, उनकी बेहतरी के लिए सोचते हैं। न्यूनतम समर्थन मूल्य का फैसला हो या मृदा स्वास्थ्य कार्ड का, यूरिया की 100 प्रतिशत नीम कोटिंग हो चाहे दशकों से अधूरी सिंचाई परियोजनाओं को पूरा करना हो, हर स्तर पर सरकार ने काम किया है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ने शनिवार को बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की आधार शिला रखने के अलावा देश भर में 10,000 किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) की शुरुआत की। मोदी ने कहा कि आपने दशकों में वो दिन भी देखे है जब बुंदेलखंड के नाम पर, किसानों के नाम पर हजारों करोड़ के पैकेज घोषित होते थे, लेकिन किसान की जेब तक कुछ नही पहुंचाता था और अब उन दिनों को हम पीछे छोड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली से निकलने वाली पाई पाई उसके हकदार तक पहुंच रही है। इस वर्ष के बजट में भी अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं, जिनका लाभ किसानों को होगा। किसान की आय बढ़ाने के लिए 16 सूत्री कार्यक्रम बनाया गया है। सरकार का प्रयास है कि किसान को उसके खेत के कुछ किलोमीटर के दायरे में ही एक ऐसी व्यवस्था मिले, जो उसे देश के किसी भी मार्केट से जोड़ दे। आने वाले समय में ये ग्रामीण हाट कृषि अर्थव्यवस्था के नए केंद्र बनेंगे। करीब 86 प्रतिशत किसान छोटे और सीमांत किसान हैं, जिनके पास देश में औसतन जोत क्षेत्र 1.1 हेक्टेयर से भी कम है। लघु, सीमांत और भूमिहीन किसानों को कृषि उत्पादन वाले चरण के दौरान काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। आर्थिक शक्ति की कमी के कारण उन्हें अपने उत्पाद के विपणन में भी भारी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। वहीं प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में पहली बार एक वर्ष में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत 8.5 करोड़ किसानों को 50 हजार करोड़ रुपए की धनराशि प्रदान की गई है। इसमें उत्तर प्रदेश के 02 करोड़ किसान सम्मिलित हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की आमदनी बढ़ाने तथा लागत घटाने के लिए भारत सरकार द्वारा कई कार्य किए गए हैं। किसानों की आय बढ़ाने के लिए 16 सूत्रीय कार्यक्रम लागू किया गया है। किसानों के उत्पादों को न केवल मंडी स्थलों अपितु देश व विदेश तक पहुंचाने के लिए देश के 22 हजार हाटों में आवश्यक आधारभूत सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। वहीं मोदी ने कहा कि भारत सरकार द्वारा जल जीवन मिशन योजना प्रारम्भ की गई है। इससे 15 करोड़ परिवारों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सकेगा। इस योजना का संचालन गांव के स्थानीय लोग ही करेंगे, जिसमें महिलाएं महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करेंगी। कार्यक्रम के दौरान मोदी ने नौ राज्यों के 10 किसानों को किसान के्रडिट कार्ड प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम ने अपने वनवास के कालखंड में जिस पावन धरती पर सर्वाधिक समय व्यतीत किया था। उसी बुंदेलखण्ड की धरती को विकास की नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का आगमन हुआ है। भगवान श्रीराम के संकट के समय चित्रकूट सम्बल बना था। अयोध्या में शीघ्र भव्य राम मन्दिर बनेगा। उन्होंने कहा कि चित्रकूट धाम आध्यात्मिक व सांस्कृतिक नगरी के रूप में राष्ट्रऋषि नानाजी देशमुख के उन सपनों को साकार करता हुआ दिखाई देगा। जिसके लिए उन्होंने ग्रामोदय विश्वविद्यालय की स्थापना चित्रकूट में की थी। योगी ने कहा कि लगभग 15 हजार करोड़ रुपए से बनने वाले 296 किमी लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से यहां के किसानों की आय दोगुनी होगी। इस एक्सप्रेसवे के निर्माण से बुंदेलखंड की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण परिवर्तन आएगा तथा बुंदेलखंड विकास का मॉडल बनेगा। इसके निर्माण से डिफेंस कॉरिडोर को गति मिलेगी। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे बनने के साथ ही, डिफेंस इंडस्टि्रयल कॉरिडोर नौजवानों को रोजगार प्रदान करेगा। बुंदेलखंड का नौजवान अब पलायन नहीं करेगा। यहां पर बनने वाली तोपें दुश्मनों को परास्त करने का कार्य करेंगी। योगी ने कहा कि बुंदेलखंड क्षेत्र में हर घर में नल योजना शीघ्र प्रारम्भ होगी, जिससे सभी परिवारों को शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हो सकेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से बुंदेलखंड के किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है। इसके तहत किसानों को 6000 रुपए प्रतिवर्ष मिल रहे हैं। उन्होंने किसान उत्पादक संगठनों के शुभारम्भ और किसान क्रेडिट कार्ड की चर्चा करते हुए कहा कि इनसे सभी किसानों के सपने साकार होंगे। इस अवसर पर केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे इस क्षेत्र की तकदीर बदलने का कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि किसानों को आसानी से ऋण उपलब्ध कराने के लिए भारत सरकार द्वारा 15 लाख करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। जो किसान समय पर ऋण वापस कर देंगे उन्हें मात्र चार प्रतिशत ही ब्याज देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने कृषि व ग्रामीण विकास के लिए 03 लाख करोड़ रुपए के बजट की व्यवस्था की है तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने का भी कार्य किया गया है।



Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

मोदी ने पाकिस्तान ट्रेन हादसे में मृत सिख श्रद्धालुओं के प्रति जताया शोक
मोदी ने पाकिस्तान ट्रेन हादसे में मृत सिख श्रद्धालुओं के प्रति जताया शोक

नयी दिल्ली 03 जुलाई ... प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में रेल हादसे में मारे गए सिख