लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

होम

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

फिर आया चुनाव का मौसम, महाराष्ट्र व हरियाणा में 21 अक्टूबर को वोटिंग

फिर आया चुनाव का मौसम, महाराष्ट्र व हरियाणा में 21 अक्टूबर को वोटिंग

नई दिल्ली (भाषा)।   22 Sep 2019      Email  

24 अक्टूबर को आएगा परिणाम, सभी दलों ने किया अपनी-अपनी जीत का दावा
महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के लिए मतदान एक चरण में 21 अक्टूबर को होगा। दोनों ही राज्यों में अपनी सत्ता बचाए रखने के लिए भाजपा का मुख्य मुकाबला कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन से होगा। निर्वाचन आयोग ने शनिवार को दोनों राज्यों में चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मतों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी। महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल नौ नवंबर को खत्म हो रहा है जबकि 90 सदस्यों वाली हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल दो नवंबर को पूरा हो रहा है। महाराष्ट्र विधानसभा में 288 सीट हैं। दोनों विधानसभा चुनावों के लिए अधिसूचना 27 सितंबर को जारी की जाएगी और नामांकन प्रक्रिया भी उसी दिन शुरू होगी। नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख चार अक्टूबर होगी।  नामांकन पत्रों की जांच पांच अक्टूबर को होगी जबकि सात अक्टूबर तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में मई में भाजपा को केंद्र में दूसरी बार मिली सत्ता के बाद पहली बार विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। विधानसभा चुनाव में भाजपा के प्रचार के प्रमुख मुद्दों में जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने का फैसला भी होगा। भाजपा नेता जहां दोनों राज्यों में सत्ता में वापसी को लेकर आश्वस्त दिख रहे हैं वहीं हाल के हफ्तों में विरोधी खेमे के कई नेताओं के भगवा पार्टी का दामन थामने से विपक्ष की स्थिति कमजोर हुई है। महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के बीच गठबंधन को अभी अंतिम रूप नहीं दिया जा सका है लेकिन दोनों के बीच कुछ समय से इस विषय पर बातचीत चल रही है। भाजपा महाराष्ट्र में 288 सदस्यीय विधानसभा में सीटों के बड़े हिस्से पर चुनाव लड़ना चाह रही है जबकि शिवसेना चाहती है कि पहले से तय फॉर्मूले के मुताबिक दोनों दल समान सीटों पर चुनाव लड़ें। दोनों दलों के बीच 2014 के चुनावों के दौरान भी सहमति नहीं बन पाई थी और तब दोनों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था। भाजपा ने तब 122 सीटें जीतीं थी जबकि शिवसेना के खाते में 63 सीटें आई थीं। चुनाव के बाद सरकार बनाने के लिए दोनों ने हाथ मिला लिया था। यह पूछे जाने पर कि देश में एक साथ चुनाव कराने की चर्चाओं के बीच शनिवार को झारखंड विधानसभा चुनावों की घोषणा नहीं की गई, अरोड़ा ने कहा कि राज्य विधानसभा का कार्यकाल नौ जनवरी को खत्म हो रहा है। उन्होंने कहा कि अगर सदन के नेता विधानसभा भंग कर समयपूर्व चुनाव कराना चाहते हैं, तब यह एक अलग मामला है। लेकिन आयोग को इसे पहले क्यों कराना चाहिए। मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि एक साथ चुनाव कराने को लेकर जहां चर्चाएं हो रही हैं, जब तक राजनीतिक दलों के बीच इस मुद्दे पर बिल्कुल स्पष्ट सहमति नहीं होगी, इसे एक तय स्वरूप के रूप में नहीं लिया जा सकता। यह पूछे जाने पर कि क्या निर्वाचन आयोग चुनाव प्रचार के दौरान अनुच्छेद 370 के इस्तेमाल पर भी प्रतिबंध लगाएगा जैसा कि उसने रक्षा बलों द्वारा सीमा पर की गई कार्रवाई के इस्तेमाल पर लगाया था। उन्होंने इसका कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि (अनुच्छेद) 370 भारत की संसद द्वारा लिया गया फैसला है। एक मात्र जगह जहां इसे चुनौती दी जा सकती है वह उच्चतम न्यायालय है। पेपर ट्रेल मशीनों के इस्तेमाल के संदर्भ में उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनावों की तर्ज पर आयोग ने इस बार भी महाराष्ट्र और हरियाणा में हर विधानसभा के पांच मतदान केंद्रों पर वीवीपीएटी पर्चियों की गणना होगी जिससे ईवीएम के नतीजों का सत्यापन हो सके। महाराष्ट्र में आठ करोड़ 95 लाख मतदाताओं के लिए 95,473 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे जबकि हरियाणा में करीब एक करोड़ 83लाख मतदाताओं के लिए 19,425 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस बीच शिवसेना और भाजपा के नेताओं ने शनिवार को राज्य में लगातार दूसरी बार चुनाव जीतने का भरोसा जताया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की महाजनादेश यात्रा को मिली शानदार प्रतिक्रिया को देखते हुए भाजपा गठबंधन को 220 से ज्यादा सीटें मिलने की उम्मीद है। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि दीवाली से एक दिन पहले युति (गठबंधन) पटाखे छोड़ेगा। हमारी तैयारी पूरी है। वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को कहा कि राज्य में विपक्ष विभाजित है और विश्वास जताया कि भाजपा अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनावों में 90 में से 75 सीटों पर जीत हासिल करेगी।जबकि महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के कार्यक्रम की घोषणा का स्वागत करते हुए कांग्रेस ने शनिवार को दावा किया कि इन दोनों राज्यों में उसकी जीत होगी क्योंकि जनता पूंजीपतियों की सरकार के दांत खट्टे करने का संकल्प ले चुकी है। दूसरी ओर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने चुनाव आयोग द्वारा महाराष्ट्र एवं हरियाणा में विधानसभा चुनाव की घोषणा का स्वागत करते हुए शनिवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से 5 वर्षों में भाजपा की राज्य सरकारों के विकास और सुशासन के कार्याे एवं उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने का आह्वान किया। शाह ने ट्वीट किया कि चुनाव आयोग द्वारा महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों की घोषणा का हृदय से स्वागत करता हूं। उन्होंने कहा कि चुनाव न सिर्फ लोकतंत्र का सबसे बड़ा उत्सव होता है बल्कि यह अपने देश और प्रदेश को विकास और सुशासन के पथ पर अग्रसर रखने का भी सबसे बड़ा माध्यम होता है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मैं महाराष्ट्र और हरियाणा के सभी मतदाताओं से और विशेषकर युवाओं से आह्वान करता हूं कि आप अधिक से अधिक संख्या में मतदान कर एक मजबूत सरकार चुनने में और अपने प्रदेश के विकास और उन्नति में भागीदार बने।  शाह ने कहा कि महाराष्ट्र और हरियाणा में गत 5 वर्षों में चली भाजपा की राज्य सरकारों ने प्रदेश को विकास और सुशासन की नित नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे अपनी सरकारों की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाए और पुनः प्रचंड बहुमत के साथ सरकारें बनाए।



Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी
देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी

गोहाना/हिसार, 18 अक्तूबर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर आज बड़ा हमला बोलते हुये कहा कि उसने देश में

रुपया दो पैसे चढ़ा
रुपया दो पैसे चढ़ा

मुंबई 18 अक्टूबर  दुनिया की प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजाेर पड़ने और घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में तेजी