लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर
बलात्कार के मामले में तरुण तेजपाल के खिलाफ आरोप तय
शकुंतला विवि में दिव्यांग छात्रों के लिए बढ़ाई गईं सुविधाएं

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

चुनाव प्रचार में सेना की तस्वीरों के इस्तेमाल पर होगी कार्रवाई: चुनाव आयोग

चुनाव प्रचार में सेना की तस्वीरों के इस्तेमाल पर होगी कार्रवाई: चुनाव आयोग

नयी दिल्ली 10 मार्च (वार्ता)  10 Mar 2019      Email  

नयी दिल्ली 10 मार्च  चुनाव आयोग ने रविवार को कहा कि जो राजनीतिक दल या उम्मीदवार अपने चुनाव प्रचार में सेना की तस्वीरों, वर्दी आदि का किसी भी प्रकार इस्तेमाल करेंगे, उनके खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के तहत कार्रवाई की जायेगी।
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने यहां लोकसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा करते हुए पत्रकारों के सवालों पर यह बात कही। श्री अरोड़ा ने कहा कि कल रात ही आयोग ने इस संबंध में एक निर्देश जारी किया है, जिसमें सेना की तस्वीरों का इस्तेमाल न करने की सलाह दी गयी है और वर्ष 2013 में भी ऐसे निर्देश जारी किये गये थे।
उन्होंने कहा कि यह आदर्श चुनाव संहिता आज से लागू हो गयी है और अब अगर कोई उम्मीदवार या दल ऐसा करेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने आश्वासन दिया कि इस बाद आदर्श आचार चुनाव संहिता का उल्लंघन किये जाने पर पहले की तुलना में इस बार और बेहतर ढंग से कार्रवाई की जायेगी।
यह पूछे जाने पर कि सोशल मीडिया पर चुनाव के बारे में भ्रामक और गलत खबरें फैलाने तथा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए नफरत वाले पोस्ट डालने पर कैसे रोक लगायी जायेगी, श्री अरोड़ा ने कहा कि सभी राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय समाचार चैनलों की निगरानी की जायेगी और किसी सामग्री के आपत्तिजनक पाये जाने पर उसे संबद्ध अधिकारियों को भेजा जायेगा। फेसबुक, ट्विटर, गूगल, व्हाटस ऐप तथा शेयर चैट आदि सोशल साइट के बारे में इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने कहा है कि वह इस संबंध में आयोग का सहयोग करेगी। इन सोशल प्लेटफार्म ने चुनाव आयोग की गतिविधियों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए जागरुकता अभियान शुरू कर दिया है। वे अपने उपयोग कर्ताओं को यह भी बता रहे हैं कि मतदान शुरू होने के 48 घंटे पहले की अवधि के दौरान किस तरह की सामग्री पोस्ट करना प्रतिबंधित है। 
इन सभी प्लेटफार्म ने यह भी कहा है कि वे चुनाव के लिए शिकायत अधिकारी नियुक्त करेंगे और फेक न्यूज तथा अापत्तिजनक सामग्री की जांच करेंगे।
यह कहे जाने पर कि फेसबुक और गुगल अगर आपकी बात नहीं मानता है तो क्या कार्रवाई करेंगे तो श्री अरोड़ा ने कहा है कि सोशल मीडिया और प्रिंट मीडिया पर इस तरह की दुष्प्रचार सामग्री पर रोक लगाने का कोई कानूनी अधिकार आयोग के पास नहीं है। इसके लिए एक समिति गठित की गयी थी, जिसने तीन माह पहले अपनी सिफारिश दी है और उसे कानून मंत्रालय के पास भेजा गया है। कानून मंत्रालय को इस पर अंतिम फैसला करना है।
इस सवाल पर कि पिछली बार लोकसभा चुनाव की घोषणा पांच मार्च को कर दी गयी थी जबकि इस बार इसकी घोषणा विलंब से की जा रही है, क्या इसका मकसद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को विभिन्न परियोजनाओं के उद्घाटन के लिए समय देना था, मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि ऐसी बात नहीं है क्योंकि पन्द्रहवीं लोकसभा का कार्यकाल 31 मई को समाप्त हो रहा था जबकि मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल तीन जून को समाप्त हो रहा है।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

पर्रिकर पंचतत्व में विलीन, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार
पर्रिकर पंचतत्व में विलीन, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

गोवा के मुख्यमंत्री का अंतिम संस्कार सोमवार को राजकीय सम्मान के साथ किया गया और इस अवसर पर हजारों लोगों ने नम आंखों के स

अखिलेश, मुलायम, डिंपल, अजित व जयंत के खिलाफ प्रत्याशी नहीं उतारेगी कांग्रेस
अखिलेश, मुलायम, डिंपल, अजित व जयंत के खिलाफ प्रत्याशी नहीं उतारेगी कांग्रेस

यूपी में महागठबंधन में जगह न मिलने से लगातार अपनी रणनीति बदल रही कांग्रेस ने रविवार को एक और ऐलान किया है। कांग्रेस ने स

देश के पहले लोकपाल बन सकते हैं पूर्व न्यायाधीश पिनाकी चंद्र घोष
देश के पहले लोकपाल बन सकते हैं पूर्व न्यायाधीश पिनाकी चंद्र घोष

देश के पहले लोकपाल के तौर पर नियुक्ति के लिए उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष के ना