लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

कांग्रेस ही गांधी के सिद्धांतों पर चली है और चलेगी : सोनिया गांधी

कांग्रेस ही गांधी के सिद्धांतों पर चली है और चलेगी : सोनिया गांधी

नयी दिल्ली, 02 अक्टूबर (वार्ता)  02 Oct 2019      Email  

नयी दिल्ली, 02 अक्टूबर  कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भारतीय जनता पार्टी तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनका नाम लिए बिना तीखा हमला करते हुए कहा है कि कोई कितना भी दिखावा करें और खुद को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सिद्धांतों के पुजारी होने का दावा करे लेकिन सच्चाई यही है कि गांधी के विचारों पर कांग्रेस ही चली है और आगे भी चलेगी।

श्रीमती गांधी ने बुधवार को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर पार्टी की संदेश यात्रा को यहां राजघाट पर संबोधित करते हुए कहा “इन दिनों खुद को ‘भारत का भाग्य विधाता’ समझने वाले लोगों से मैं विनम्रता से कहना चाहती हूं कि गांधी जी नफरत के नहीं प्रेम के प्रतीक थे, तनाव के नहीं सद्भाव के प्रतीक थे, वे निरंकुश नहीं जनतंत्र के प्रतीक हैं। कोई कुछ भी दिखावा करे ,गांधी जी के सिद्धांत पर कांग्रेस ही चली है कांग्रेस ही चलेगी।”

उन्होंने संदेश यात्रा में शामिल लोगों का आह्वान किया कि देश के बुनियादी मूल्य को बचाने, संवैधानिक संस्थानों तथा भारत की मिली जुली संस्कृति और पहचान को बनाए रखने के लिए गांधी जी के संदेश को देश के हर कोने के हर घर तक पहुंचाना है। भारत की बुनियादी अस्मिता, सांस्कृतिक विविधता, समभाव की विरासत और सदभाव के मूल्य को हर कीमत पर बचाना है।

श्रीमती गांधी ने कहा “आज कुछ लोग चाहते हैं कि गांधी जी नहीं वह खुद भारत का प्रतीक बन जाएं। उन्हें समझना चाहिए कि हमारे देश की मिली जुली सभ्यता है, हमारा मिला जुला समाज है और मिली जुली संस्कृति है और इसमें गांधी जी की समावेशी व्यवस्था के अलावा कुछ और नहीं सोचा जा सकता है।

उन्होंने कहा कि जो लोग असत्य की राजनीति करते हैं कि वे कैसे समझेगे कि कि गांधी जी सत्य के पुजारी थे। जिन्हें अपनी सत्ता के लिए सब कुछ करना मंजूर है वे कैसे समझेगे कि गांधी जी सत्य के उपासक थे। जिनमें लोकतंत्र को सारी शक्ति मुट्ठी में रखने की प्यास है वे क्या समझेंगे कि गांधी जी का स्वराज क्या मतलब है। जिन्हें मौका मिलते ही खुद को सर्वे सर्वा बताने की इच्छा हो वे कैसे समझेंगे कि गांधी की निस्वार्थ सेवा का मूल्य क्या होता है।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी
देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी

गोहाना/हिसार, 18 अक्तूबर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर आज बड़ा हमला बोलते हुये कहा कि उसने देश में

रुपया दो पैसे चढ़ा
रुपया दो पैसे चढ़ा

मुंबई 18 अक्टूबर  दुनिया की प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजाेर पड़ने और घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में तेजी