लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा स्थगित
पुतिन 2036 तक बने रहेंगे राष्ट्रपति
श्रमिको के अधिकार रौंदने की कोशिश अनुचित:राहुल
प्रवासी मजदूरों की मौत पर मगरमच्छ के आंसू बहा रहा है केंद्र: चिदम्बरम
जापान में कोरोना संक्रमण के 14000 से अधिक मामले
कोरोना की लड़ाई में ‘सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ : मोदी
देश में कोरोना के 768 नये मामले, 36 की मौत
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह

होम

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

देश में कोविड-19 के एक दिन में सर्वाधिक 20,000 मामले

देश में कोविड-19 के एक दिन में सर्वाधिक 20,000 मामले

नई दिल्ली (भाषा)।   29 Jun 2020      Email  

कोरोना के मामले हुए 5.28 लाख, मप्र व उप्र में घर-घर सर्वेक्षण की घोषणा
एक दिन में करीब 20 हजार मामले आने के साथ भारत में कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्या रविवार को पांच लाख 28 हजार 859 हो गई, वहीं मृतकों की संख्या 16,095 हो गई है। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश ने भी घर-घर सर्वेक्षण कराने की घोषणा की है। केंद्र सरकार ने बताया कि ठीक होने वाले लोगों की संख्या कोविड-19 से संक्रमित लोगों की तुलना में एक लाख ज्यादा है। सरकार ने कहा कि राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के साथ मिलकर एहतियाती कदम उठाने के उत्साहजनक परिणाम दिख रहे हैं। अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज करा रहे लोगों की संख्या जहां दो लाख तीन हजार 51 है वहीं तीन लाख नौ हजार 712 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं और एक मरीज दूसरे देश चला गया है। एक अधिकारी ने बताया कि इस प्रकार अभी तक करीब 58.56 प्रतिशत मरीज ठीक हो चुके हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया, कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ भारत सरकार द्वारा उठाए गए चरणबद्ध एहतियाती कदमों से उत्साहजनक परिणाम दिख रहे हैं। भारत में लॉकडाउन के नियमों में ढील दिए जाने की तारीख एक जून तक संक्रमित लोगों की संख्या तीन लाख 38 हजार 324 थी। देश में रविवार को संक्रमण के 19,906 मामले सामने आए। यह लगातार पांचवां दिन है जब कोरोना वायरस संक्रमण की संख्या 15 हजार से अधिक हुई है। देश में अनलॉक चरण शुरू होते ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि अब कोरोना वायरस को परास्त करने और अर्थव्यवस्था को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करना होगा। उन्होंने कहा कि भारत ने हमेशा आपदा को सफलता में परिवर्तित किया है और यह वर्ष भी अलग नहीं होगा। उन्होंने कहा कि लोगों को लॉकडाउन के समय की तुलना में ज्यादा सतर्कता बरतनी होगी। प्रधानमंत्री ने अपने मासिक मन की बात कार्यक्रम में चेताया, हमेशा याद रखिए, अगर आपने मास्क नहीं पहना, छह फुट सामाजिक दूरी का पालन नहीं किया या अन्य एहतियात नहीं बरते तो खुद के अलावा आप दूसरों को भी खतरे में डाल रहे हैं, खासकर घर के बुजुर्गों और बच्चों को। प्रधानमंत्री की बातों का समर्थन करते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा कि 30 जून के बाद भी राज्य में लॉकडाउन की पाबंदियां जारी रहेंगी, क्योंकि संकट अभी टला नहीं है। ठाकरे ने कहा कि अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए अनलॉक की प्रक्रिया को धीरे-धीरे लागू किया जा रहा है, जिसे मिशन बिगिन अगेन नाम दिया गया है। मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। वहां संक्रमण के कुल एक लाख 59 हजार 133 मामले हैं जबकि दिल्ली में 80,188, तमिलनाडु में 78,335, गुजरात में 30,709, उत्तरप्रदेश में 21,549, राजस्थान में 16,944 और पश्चिम बंगाल में 16,711 मामले सामने आए हैं। कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के प्रयास के तहत मुंबई पुलिस ने लोगों से अपील की है कि व्यायाम के लिए जिम या दुकानों और सैलूनों में जाने के लिए अपने घर से दो किलोमीटर से ज्यादा के दायरे में नहीं जाएं। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कार्यालय या चिकित्सकीय आपातकाल को ध्यान में रखकर ही दो किलोमीटर से ज्यादा जाने की अनुमति होगी। उन्होंने कहा कि इस दायरे से बाहर खरीदारी करने जाने पर पूरी तरह प्रतिबंध होगा। कोरोना वायरस के कारण लागू पाबंदियों में ढील दिए जाने के बाद मुंबई में रविवार को तीन महीने के अंतराल के बाद कुछ सैलून खुले, जबकि कई श्रमशक्ति की कमी के कारण बंद रहे। मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि चूंकि बड़ी संख्या में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, इसलिए कड़ा अनुशासन लागू रहना जरूरी है। उन्होंने कहा कि मैं लॉकडाउन शब्द का प्रयोग नहीं भी कर रहा हूं तो भी गलतफहमी में नहीं रहें और सुरक्षा कम नहीं करें। वास्तव में हमें ज्यादा अनुशासन दिखाने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संकट अभी खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि हम इस युद्ध को अंतिम चरण में आधा-अधूरा नहीं छोड़ सकते। मुझे विश्वास है कि आप सरकार के साथ सहयोग करते रहेंगे ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि लॉकडाउन फिर से लागू नहीं हो। उन्होंने कहा कि हम शिक्षा को फिर से शुरू करने पर ध्यान दे रहे हैं क्योंकि यह स्कूल खोले जाने से ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा, पीपीई किट और एन-95 मास्क की कमी नहीं है। अगर चिकित्सकीय आपूर्ति में कमी है तो सरकार को बताएं। महाराष्ट्र को आपके अनुभव की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित मुंबई में चेज द वायरस पहल के अच्छे परिणाम सामने आए और अब इसे राज्य के दूसरे हस्सों में भी लागू किया जाएगा। अभियान के तहत कोविड-19 रोगी के निकट संपर्क में आने वाले 15 लोगों को आवश्यक रूप से संस्थागत पृथक-वास केंद्र में रखा जाएगा, जबकि समुदाय के नेता लोगों को संस्थागत पृथक-वास केंद्रों में अन्य बीमारियों, भोजन और अन्य सुविधाओं की जानकारी देंगे। साथ ही वे क्लीनिक के समय के बारे में भी बताएंगे। इसे 27 मई को शुरू किया गया था। दिल्ली में मामलों में अचानक बढ़ोतरी के बाद अधिकारी संशोधित रणनीति को लागू कर रहे हैं और कोविड-19 निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 218 से बढ़कर 417 हो गई है, जबकि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए घर-घर सर्वेक्षण की नीति के तहत करीब दो लाख 45 हजार लोगों की जांच की गई है। अधिकारियों ने बताया कि निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या में और बढ़ोतरी हो सकती है क्योंकि केंद्र के निर्देश के बाद अधिकारी कुछ जिलों में इस तरह के इलाकों की फिर से पहचान करने की प्रक्रिया पूरी नहीं कर पाए हैं। एक अधिकारी ने बताया, हमने महानगर में कोविड-19 के लिए घर-घर जाकर करीब दो लाख लोगों की जांच की है। करीब 45 हजार लोगों की जांच कोविड-19 निषिद्ध क्षेत्रों में की गई है। प्रत्येक घर की जांच की प्रक्रिया छह जुलाई तक पूरी हो जाएगी। 2011 की जनगणना के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में करीब 34.35 लाख घर थे जिनमें 33.56 लाख शहरी क्षेत्रों में और 79,574 घर ग्रामीण क्षेत्रों में थे। दस हजार से अधिक मामलों वाले अन्य राज्य हैं तेलंगाना (13,436), हरियाणा (13,427), मध्यप्रदेश (12,965), आंध्रप्रदेश (12,285) और कर्नाटक (11,923)। उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश ने भी निगरानी बढ़ाते हुए दिल्ली, गोवा, ओडिशा और झारखंड की तर्ज पर घर-घर सर्वेक्षण कराने का फैसला किया है। उत्तरप्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (चिकित्सा और स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि राज्य में जुलाई में मेरठ मंडल से बड़े पैमाने पर अभियान शुरू किया जाएगा जिसमें पोलियो उन्मूलन की तर्ज पर घर-घर सर्वेक्षण किया जाएगा। उन्होंने कहा, इसे निषिद्ध और गैर निषिद्ध क्षेत्रों में किया जाएगा। मध्यप्रदेश की सरकार ने कहा कि राज्य में कोविड-19 के प्रसार पर नियंत्रण के लिए वह एक जुलाई से कोरोना को मारो अभियान शुरू करेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोविड-19 महामारी पर डिजिटल समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि अभियान के तहत घर-घर सर्वेक्षण किया जाएगा ओर दूसरी बीमारियों से पीडç¸त नागरिकों की भी जांच की जाएगी। चौहान ने कहा कि 15 दिनों के अभियान में ढाई लाख जांच की जाएंगी और रोजाना 15 हजार से 20 हजार नमूने एकत्रित किए जाएंगे। कर्नाटक में बेंगलुरू पुलिस ने कहा कि मास्क लगाने और सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया जाएगा। बेंगलुरू के पुलिस आयुक्त भास्कर राव ने रविवार को कहा कि महानगर में अगर कोई कोविड-19 के एहतियाती नियमों का पालन नहीं कर रहा है तो लोग पुलिस को फोन कर सकते हैं। सरकार द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने का प्रयास तेज करने के बीच उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि पुलिस और नगर निकाय के अधिकारी महानगर की सड़कों पर गश्त करेंगे और मास्क एवं सामाजिक दूरी के नियम लागू करेंगे, वहीं आम लोग भी इसका पालन नहीं करने वाले लोगों को आगाह कर सकते हैं। बिहार के पिछड़े एवं अति पिछड़े वर्ग कल्याण मंत्री विनोद कुमार सिंह और उनकी पत्नी रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए और कटिहार जिले में एक होटल के पृथक-वास केंद्र में उन्हें भेज दिया गया। भारत में अभी तक केवल कोविड-19 की जांच के लिए 1036 प्रयोगशालाएं हैं। इनमें 749 सरकारी क्षेत्र की और 287 निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाएं हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, रोजाना दो लाख से अधिक नमूनों की जांच की जा रही है। पिछले 24 घंटे में दो लाख 31 हजार 95 नमूनों की जांच हुई है। अभी तक 82 लाख 27 हजार 802 नमूनों की जांच हुई है। रविवार की सुबह तक जिन 410 और लोगों की मौत हुई, उनमें से महाराष्ट्र में 167, तमिलनाडु में 68, दिल्ली में 66, उत्तर प्रदेश में 19, गुजरात में 18, पश्चिम बंगाल में 13, राजस्थान और कर्नाटक में 11-11, आंध्र प्रदेश में नौ, हरियाणा में सात, पंजाब और तेलंगाना में छह-छह, मध्य प्रदेश में चार, जम्मू कश्मीर में दो और बिहार, ओडिशा तथा पुडुचेरी में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।



Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

राज्य विश्वविद्यालयों में 4 अगस्त से शुरू होगी ऑनलाइन पढ़ाई, शैक्षणिक कैलेंडर जारी
राज्य विश्वविद्यालयों में 4 अगस्त से शुरू होगी ऑनलाइन पढ़ाई, शैक्षणिक कैलेंडर जारी

कुलपति, डीन व विभागाध्यक्ष लगातार सभी संकायों व विषयों के ई-कंटेंट की समीक्षा करें उच्च शिक्षा विभाग ने सभी विश्वविद्या

हर्षवर्द्धन, जावडेकर, ममता और अखिलेश ने अमिताभ के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की
हर्षवर्द्धन, जावडेकर, ममता और अखिलेश ने अमिताभ के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की

नयी दिल्ली 11 जुलाई ...केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन और पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर, पश

एक दिन में कोरोना के 28 हजार से अधिक नये मामले, संक्रमितों की संख्या 8.5 लाख के करीब
एक दिन में कोरोना के 28 हजार से अधिक नये मामले, संक्रमितों की संख्या 8.5 लाख के करीब

नयी दिल्ली 12 जुलाई ... देश में कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों में बहुत तेजी से वृद्धि हो रही है और पिछले 24 घंटों में र