लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
कोरोना के 2.56 लाख से अधिक नमूनों की जांच
देश में कुल 1,268 कोरोना टेस्ट लैब
रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा स्थगित
पुतिन 2036 तक बने रहेंगे राष्ट्रपति
श्रमिको के अधिकार रौंदने की कोशिश अनुचित:राहुल
प्रवासी मजदूरों की मौत पर मगरमच्छ के आंसू बहा रहा है केंद्र: चिदम्बरम
जापान में कोरोना संक्रमण के 14000 से अधिक मामले
कोरोना की लड़ाई में ‘सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ : मोदी
देश में कोरोना के 768 नये मामले, 36 की मौत
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी

स्थानीय

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए बचाव और उपचार का करें प्रबंध

संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए बचाव और उपचार का करें प्रबंध

लखनऊ।   10 Oct 2020      Email  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए बचाव और उपचार के व्यापक प्रबंध निरंतर जारी रखने के निर्देश देते हुए कहा कि बेहतर प्रबंधन से ही राज्य में पिछले 22 दिनों में 27 हजार कोविड पॉजिटिव के एक्टिव केस कम हुए हैं। योगी शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने पिछले 22 दिनों में 27 हजार कोविड पॉजिटिव के एक्टिव केस कम होने पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि कोविड-19 के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए बचाव और उपचार के व्यापक प्रबंध निरंतर जारी रखे जाय।  उन्होंने लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर तथा वाराणसी में विशेष सतर्कता बरतते हुए चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी कोविड चिकित्सालयों में आवश्यक दवाओं, मेडिकल उपकरण एवं ऑक्सीजन की सुचारु उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। वरिष्ठ चिकित्सकों द्वारा नियमित तौर पर राउंड लिया जाए। पैरामेडिक्स द्वारा मरीजों की गहन मॉनिटरिंग की जाए।  मुख्यमंत्री ने जिला स्तर पर कोविड-19 की उपचार व्यवस्था को सुचारु बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि शासन स्तर पर मुख्य सचिव, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य तथा अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा द्वारा जिलाधिकारियों तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारियों से संवाद स्थापित करते हुए चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाए। उन्होंने कम रिकवरी दर वाले जिलों के जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी से स्थिति की संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर रिकवरी दर में वृद्धि के लिए सभी प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि  ऑनलाइन ओपीडी सेवा ई-संजीवनी का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसके माध्यम से चिकित्सीय परामर्श प्राप्त कर सकें। उन्होंने सर्विलांस, कांटैक्ट ट्रेसिंग तथा मेडिकल टेस्टिंग के कार्य को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री  ने 10 से 16 अक्टूबर तक प्रदेश में स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन का विशेष अभियान संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि अभियान के दौरान अस्पताल, विद्यालय, कार्यालय समेत सभी सार्वजनिक स्थानों आदि पर साफ-सफाई और सेनिटाइजेशन के विशेष प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा देश में कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए एक लाख करोड़ रुपए की धनराशि प्राविधानित की गई है। प्रदेश में कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में व्यापक संभावनाएं हैं। उन्होंने खाद्यान्न भंडारण के लिए गोदामों के निर्माण कार्यों को प्राथमिकता पर पूर्ण किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे किसानों और कृषि क्षेत्र को लाभ होगा।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

अर्थव्यवस्था : वर्ष 2020-21 में वृद्धि दर रहेगी नकारात्मक या शून्य के करीब
अर्थव्यवस्था : वर्ष 2020-21 में वृद्धि दर रहेगी नकारात्मक या शून्य के करीब

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि अर्थव्यवस्था में अब सुधार के संकेत दिखने लगे हैं। हालांकि, इसके साथ ही

वीडियो कांफ्रेंसिंग सुनवाई के दौरान कमीज के बिना वकील स्क्रीन पर दिखा
वीडियो कांफ्रेंसिंग सुनवाई के दौरान कमीज के बिना वकील स्क्रीन पर दिखा

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग से जारी सुनवाई के दौरान गाहे-बगाहे अजीब-अजीब व