लखनऊ से हिंदी एवं उर्दू में एकसाथ प्रकाशित राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र
ताजा समाचार
नारी गरिमा और उसके सम्मान की रक्षा के लिए तीन तलाक बिल आवश्यक था
माेदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी: रामदेव
सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश
मोदी की टिप्पणी ‘हताशा का चरम’: तृणमूल
बहराइच में पानी के लिये भटका बारहसिंघा, कुत्तों ने नोचा
मलेशिया में नजीब रजाक के घर के आसपास घेराबंदी
बस खाई में गिरी, आठ की मौत
मोदी ने कर्नाटक के लोगों से किया बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह
अमेरिका ने ईरान पर लगाए नए प्रतिबंध
कांग्रेस कर्नाटक में वापसी को लेकर आशवस्त
इजरायली सैनिकों की गोलीबारी में 350 फिलीस्तीनी घायल
पृथ्वी शॉ की तकनीक सचिन जैसी: मार्क वॉ
अमेरिका की पूर्व पहली महिला बारबरा बुश का निधन
वंशवाद और जातिवाद ने किया यूपी का बंटाढार
मुठभेड़ में लश्कर का शीर्ष कमांडर वसीम शाह ढेर

देश

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ',
सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40, फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewsactivist@yahoo.co.in, dailynewslko@gmail.com
वेबसाइट : http://www.dnahindi.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

अनुच्छेद 370 खत्म करने का निर्णय काफी मुश्किल: शाह

अनुच्छेद 370 खत्म करने का निर्णय काफी मुश्किल: शाह

नयी दिल्ली 07 अक्टूबर (वार्ता)  07 Oct 2019      Email  

नयी दिल्ली 07 अक्टूबर  केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 खत्म करने के निर्णय को काफी मुश्किल फैसला करार देते हुए सोमवार को कहा कि लोगों की भलाई के लिए कुछ साहसी निर्णय लेने अनिवार्य हो जाते हैं।

श्री शाह ने यहां महाराष्ट्र सदन में 2018 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद एक भी गोली नहीं चली और एक भी जान नहीं गयी। उन्होंने कहा कि कश्मीर के 196 थाना क्षेत्रों में से केवल 10 में धारा 144 लगी हुई है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर हमेशा केंद्र शासित प्रदेश नहीं रहेगा। कश्मीर में स्थिति सामान्य हो जाने के बाद इसे दोबारा राज्य बना दिया जायेगा।

गृह मंत्री ने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि यह केवल राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए ही नहीं बल्कि बेहतर प्रशासन के लिए भी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि एनआरसी लागू होने के बाद देश हित में नीतियां बनाने में आसानी होगी। श्री शाह ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ विपक्षी दलों द्वारा एनआरसी को राजनीतिक कदम कहा जा रहा है। यह राजनीतिक नहीं बल्कि संवैधानिक कदम है ताकि विकास का लाभ सभी नागरिकों तक पहुंच सके।

इस मौके पर महिला आईपीएस अधिकारियों को संबोधित करते हुए श्री शाह ने कहा कि आरक्षण स्थायी सफलता नहीं है, आपकी सफलता ही दूसरी महिलाओं के लिए प्रेरणा बन सकती है। धीरे-धीरे सामाजिक मनोवृत्ति को बदलने की जरूरत है और स्वत: ही महिलाओं को सेना, पुलिस तथा आंतरिक सुरक्षा के विभागों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेना होगा।


Comments

' data-width="100%">

अन्य खबरें

देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी
देश का पानी अब पाकिस्तान नहीं जाएगा, पांच साल कांग्रेस के पुराने गड्ढे भरने में निकले: मोदी

गोहाना/हिसार, 18 अक्तूबर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर आज बड़ा हमला बोलते हुये कहा कि उसने देश में

रुपया दो पैसे चढ़ा
रुपया दो पैसे चढ़ा

मुंबई 18 अक्टूबर  दुनिया की प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजाेर पड़ने और घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में तेजी