ताजा समाचार

समाचार विवरण

डेली न्यूज़ एक्टिविस्ट

मीडिया हाउस, 16/3 'घ', सरोजिनी नायडू मार्ग, लखनऊ - 226001
फ़ोन : 91-522-2239969 / 2238436 / 40,
फैक्स : 91-522-2239967/2239968
ईमेल : dailynewslko@gmail.com
ई-पेपर : http://www.dailynewsactivist.com

महाराष्ट्र में ईद-उल-फित्र को लेकर दिशा-निर्देश जारी
महाराष्ट्र में ईद-उल-फित्र को लेकर दिशा-निर्देश जारी
मुंबई, 12 मई (वार्ता)    12 May 2021       Email   

मुंबई, 12 मई ... महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (कोविड-19) के बढ़ते मामलों को देखते हुए इसकी कड़ी को तोड़ने के लिए सख्त पाबंदियां लगायी गयी हैं।

पूरे राज्य में कर्फ्यू लागू है तथा किसी तरह के सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक या सांस्कृतिक समारोह के आयोजन की अनुमति नहीं है।

इस साल रमजान का पवित्र महीना 13 अप्रैल से शुरू हुई था। रमजान ईद (ईद-उल फित्र) 13 या 14 मई को मनायी जाएगी।

एक आधिकारिक बयान में बुधवार को कहा गया कि मौजूदा समय में कोविड-19 की दूसरी लहर और कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए 13 अप्रैल, 2021 के आदेश के प्रावधानों के अनुसार विशेष सावधानी के साथ ईद का त्योहार मनाये जाने की जरूरत है।

सरकारी आदेश में कहा गया है कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए मुसलमानों को ईद-उल-फित्र की नमाज अदा करने, तरावी और इफ्तार के लिए मस्जिदों या सार्वजनिक जगहों पर उपस्थित होने की अनुमति नहीं होगी। इस समाज के लोगों के लिए अपने घरों में धार्मिक उत्सवों को मनाने की सलाह दी जाती है। लोग रमजान के मौके पर नमाज अदा करने के लिए मस्जिदों या खुली जगहों पर इकट्ठा न हों। बृहन्मुंबई नगर निगम ( बीएमसी) और स्थानीय प्रशासन ने सामानों की खरीद के लिए समय सीमा निर्धारित की है और इसका सख्ती से पालन किया जाना चाहिए।

इसके अलावा सामान खरीदने के लिए बाजारों में भीड़ जमा न करें। कोविड-19 के बढ़ते मामलों को नियंत्रित करने के लिए भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 144 के तहत राज्य में कर्फ्यू है। कर्फ्यू के दौरान पैदल चलने वालों को सड़क पर स्टॉल नहीं लगाना चाहिए और नागरिकों को बिना किसी कारण के सड़क पर नहीं निकलना चाहिए।

सरकारी आदेश में कहा गया है कि ईद के मौके पर कोई भी जुलूस, धार्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक या राजनीतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाने चाहिए। चूंकि धार्मिक स्थान बंद हैं, इसलिए धार्मिक समुदाय, सामाजिक कार्यकर्ताओं, राजनीतिक नेताओं और मुस्लिम समुदाय के गैर-सरकारी संगठनों को पवित्र रमजान ईद के सरल उत्सव के संबंध में जागरुकता पैदा करनी चाहिए।

रमजान के दिन सामाजिक दूरी का पालन करना जरूरी है तथा मास्क पहनकर तथा सेनिटाइर का इस्तेमाल कर सावधान रहने की जरूरत है।

सरकारी आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए सभी संबंधित सरकारी विभाग द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा।


Comments

अन्य खबरें

नागालैंड से राजा मिर्च लंदन को निर्यात
नागालैंड से राजा मिर्च लंदन को निर्यात

नयी दिल्ली, 28 जुलाई (वार्ता) पूर्वोत्तर क्षेत्र से भौगोलिक संकेत (जीआई) उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए, नागालैंड की ‘राजा मिर्च’ की पहली खेप बुधवार को लंदन भेजी गयी। केंद्रीय

अफगानिस्तान को दुर्भावनापूर्ण प्रभावों से मुक्त रखना जरूरी : जयशंकर
अफगानिस्तान को दुर्भावनापूर्ण प्रभावों से मुक्त रखना जरूरी : जयशंकर

नयी दिल्ली, 28 जुलाई (वार्ता) भारत ने आज कहा कि अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया को लेकर सभी पक्षों में गंभीरता होनी जरूरी है और देश की स्वतंत्रता एवं संप्रभुता तभी बच सकती है जब इसे दुर्भावना

ओबीसी वर्ग के लिए नीट में केन्द्रीय कोटा लागू करने की मांग को लेक मंत्रियों, सांसदों ने मोदी को दिया ज्ञापन
ओबीसी वर्ग के लिए नीट में केन्द्रीय कोटा लागू करने की मांग को लेक मंत्रियों, सांसदों ने मोदी को दिया ज्ञापन

नयी दिल्ली, 28 जुलाई (वार्ता) राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) के तहत मेडिकल कालेजों में प्रवेश में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के लिए केन्द्रीय कोटा लागू करने की मांग को लेकर केन्द्रीय

आज का इतिहास
आज का इतिहास

नयी दिल्ली 27 जुलाई ..... भारत और विश्व इतिहास की घटनाएं इस प्रकार है:- 1586 -इंगलैंड से वापस लौटने पर सर थामस हेरिओट ने यूरोप को आलू के बारे में जानकारी दी 1 1741- कैप्टन बेरिंग ने माउंट सैंट